Wednesday, April 24, 2024
HomeTechnologyAI Technology: एआई पर सरकार का बड़ा फैसला, मॉडल या प्रॉडक्ट लॉन्च...

AI Technology: एआई पर सरकार का बड़ा फैसला, मॉडल या प्रॉडक्ट लॉन्च करने के लिए परमिशन जरूरी, जानें क्या है नए नियम

AI Technology: आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस यानी AI टेक्नोलॉजी को लेकर भारत सहित दुनियभर में बहस चल रही है। एआई टेक्नोलॉजी ने सिर्फ पिछले कुछ महीनों में ही पूरी दुनिया में चर्चा हासिल कर ली है। कहा जा रहा है कि इस टेक्नोलॉजी के बहुत सारे फायदे हैं, तो वहीं कई बड़े नुकसान भी हैं।

इस वजह से भारत सरकार ने एक एआई को लेकर बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार ने कहा है कि भारत में किसी भी कंपनी को अपना एआई मॉडल या कोई भी एआई प्रोडक्ट लॉन्च करने के लिए भारत सरकार के केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) से अनुमति लेना अनिवार्य होगा।

एआई के लिए नियम

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) ने भारत में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) मॉडल के लॉन्च के संबंध में कंपनियों के लिए एक नई एडवाइजरी जारी की है। भारत में एआई मॉडल (AI Model) लॉन्च करने से पहले किसी भी कंपनी यानी प्लेटफॉर्म्स या मध्यस्थों को केंद्र से स्पष्ट अनुमति लेनी होगी।

MeitY ने पहले पिछले साल दिसंबर में सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स के लिए एक एडवाइजरी भी जारी की थी, जिसमें उन्हें मौजूदा IT Rules का पालन करने का निर्देश दिया गया था। सरकार ने विशेष रूप से डीपफेक टेक्नोलॉजी से निपटने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को सलाह दी थी और आईटी नियमों का पालन करने का निर्देश दिया था।

ये बातें ध्यान में रखना बेहद जरूरी

भारत में AI मॉडल लॉन्च करने से पहले ध्यान रखने  वाली जरूरी बातें:

परमिशन की आवश्यकता जरूरी: सभी प्लेटफॉर्म्स को AI मॉडल लॉन्च करने से पहले सरकार से स्पष्ट अनुमति लेनी होगी। कंपनियों को अपने यूज़र्स को उस AI टेक्नोलॉजी के नुकसानों की जानकारी देनी होगी।

नियमों का पालन करना आवश्यक: मध्यस्थों को सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यवर्ती दिशानिर्देश और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) नियम, 2021 में मेंशन किए गए अपने कर्तव्यों का पालन करना होगा। 

कंटेंट का ध्यान रखना आवश्यक: सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स और कंपनियों को गैरकानूनी कंटेंट को प्लेटफॉर्म पर रखने, उसकी शेयरिंग और मोडिफिकेशन से बचना चाहिए। इसके अलावा उन्हें चुनावी प्रक्रिया की सुरक्षा करते हुए एकतरफा स्थिति या भेदभाव से बचना चाहिए।

यूज़र्स की जागरूकता जरूरी: यूज़र्स को AI से क्रिएट की गई तस्वीरों से होने वाले नुकसान और उससे जुड़े मामलों में अकाउंट निलंबित से लेकर लीगल एक्शन तक सबकुछ की जानकारी होनी चाहिए।

कंटेट को लेबल करना जरूरी: कंपनियों को उनके प्लेटफॉर्म में मौजूद मिसलीडिंग कंटेंट या संभावित रूप से मिसलीडिंग कंटेंट को लेबल करना भी जरूरी होगा, ताकि यूज़र्स आसानी से समझ जाएं कि वह कंटेंट गलत अथवा भ्रामक हो सकता है।

Admin
Adminhttps://www.babapost.in
हम पाठकों को देश में हो रही घटनाओं से अवगत कराते हैं। इस वेब पोर्टल में आपको दैनिक समाचार, ऑटो जगत के समाचार, मनोरंजन संबंधी खबर, राशिफल, धर्म-कर्म से जुड़ी पुख्ता सूचना उपलब्ध कराई जाती है। babapost.in खबरों में स्वच्छता के नियमों का पालन करता है। इस वेब पोर्टल पर भ्रामक, अपुष्ट, सनसनी फैलाने वाली खबरों के प्रकाशन नहीं किया जाता है।
RELATED ARTICLES

Most Popular