Qatar: इंडियन नेवी के 8 पूर्व सैनिकों को मौत की सजा मामला, कोर्ट ने भारत की अपील मंजूर की, जल्द शुरू हो सकती है सुनवाई

Admin

Qatar Court

Share this

नई दिल्ली. कतर (Qatar) के कोर्ट ने भारतीय नौसेना (इंडियन नेवी) के 8 पूर्व अफसरों की याचिका को स्वीकार कर लिया है। Qatar की कोर्ट जल्द ही उनकी अपील पर सुनवाई कर सकती है। मालूम हो कि कतर कोर्ट ने 26 अक्टूबर को भारतीयों के लिए मौत की सजा का ऐलान किया था। इसे लेकर विदेश मंत्रालय ने हैरानी जताते हुए आश्वासन दिया था कि सरकार कानूनी विकल्प तलाश रही है।

India Today की रिपोर्ट के अनुसार, 8 पूर्व नेवी अफसरों की मौत की सजा के खिलाफ भारत सरकार ने यह याचिका दायर की है। जिसे कतर की court ने स्वीकार कर लिया है और अब इस पर सुनवाई शुरू की जाएगी। विदेश मंत्रालय ने गुरुवार (23 नवंबर) को कहा कि फैसला गोपनीय है। पहली नजर में अदालत ने फैसला सुनाया, जिसे हमारी कानूनी टीम के साथ साझा किया गया। सभी कानूनी विकल्पों पर विचार करते हुए अपील दायर की गई है। हम कतर के अधिकारियों के संपर्क में हैं। 

इसे भी पढ़ें  Aaj Ka Love Rashifal 30 September 2023: ये लवर तनाव में रहेंगे, ब्रेकअप की संभावना, तुला, मकर के प्रेमी खुश रहेंगे

विदेश मंत्रालय ने ये कहा

विदेश मंत्रालय (Foreign Ministry) के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि भारत इस मामले पर कतर के अधिकारियों के साथ बातचीत कर रहा है, सरकार द्वारा पूर्व नौसेना कर्मियों को सभी कानूनी और दूतावास संबंधी सहायता देना जारी रखा जाएगा। मालूम हो कि अगस्त 2022 में, कतर (Qatar) ने 8 पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारियों को इजरायल के लिए जासूस के रूप में कार्य करने के शक में हिरासत में लिया था, जबकि वे मध्य पूर्वी देश में स्थित एक कंपनी में काम करते थे। 

इसे भी पढ़ें  भेंट मुलाकात : मुख्यमंत्री बघेल ने कुरूद विधानसभा के लिए अहम ऐलान किए

नौसेना के पूर्व अधिकारियों में कैप्टन नवतेज सिंह गिल, कैप्टन बीरेंद्र कुमार वर्मा, कैप्टन सौरभ वशिष्ठ, कमांडर अमित नागपाल, कमांडर पूर्णेंदु तिवारी, कमांडर सुगुनाकर पकाला, कमांडर संजीव गुप्ता और नाविक रागेश को Qatar खुफिया एजेंसी ने 30 अगस्त को दोहा (Doha) से गिरफ्तार किया था। कतर की सरकार (Qatar Govenment) ने नौसेना के पूर्व अफसरों पर लगाए गए आरोपों की जानकारी नहीं दी है।


Share this